जब लोग मुझ पर हमला करते हैं तो मैं अच्छी प्रतिक्रिया नहीं देता: अमाल मलिक

नई दिल्ली, 8 नवंबर (युआईटीवी/आईएएनएस) – अमाल मलिक खुद को एक साफ-सुथरे, आध्यात्मिक संगीतकार के रूप में बताना पसंद करते हैं। वह कहते हैं कि जब लोग उन्हें हाशिए पर रखने की कोशिश करते हैं या संगीत और उनके जुनून के बीच आने की कोशिश करते हैं, तो वह अच्छी प्रतिक्रिया नहीं देते हैं।

इसी सोच के साथ गायक-संगीतकार ने अपने डेब्यू पॉप गाने ‘तू मेरा नहीं’ को चुना है। अमाल ने आईएएनएस से कहा, “कोई स्क्रिप्ट या कहानी तैयार नहीं मिलती है, कलाकार आमतौर पर भावनाओं की तलाश के लिए अपने अंदर झांकते हैं। मेरी जिंदगी से कई लोग यह कहते हुए चले गए कि ‘तू मेरा नहीं’, क्योंकि मैं सप्ताहांतों पर बाहर नहीं जाता, लोगों से ज्यादा मिलता-जुलता नहीं हूं।”

उन्होंने आगे कहा, “कुछ लोग यह बात नहीं समझते कि मुझे बहुत ज्यादा स्पेस की जरूरत होती है, जब लोग मुझ पर हमला करने की कोशिश करते हैं तो मैं अच्छी तरह से प्रतिक्रिया नहीं देता हूं। मैं एक साफ-सुथरा, आध्यात्मिक संगीतकार हूं और मैं मिलावट पसंद नहीं करता हूं। मैं अपने और अपने संगीत के जुनून के बीच किसी को नहीं आने देता हूं। फिर वो चाहे मेरे दोस्त हों या कोई और।”

अमाल को लगता है कि किसी को रिश्ते को तब छोड़ देना चाहिए ‘यदि यह आपको स्वस्थ, मानसिक रूप से मजबूत, अधिक निडर नहीं बनाता है।’

अमाल ने बतौर संगीतकार फिल्म ‘जय हो’ के साथ डेब्यू किया था। वह ‘सूरज डूबा है’, ‘मैं हूं हीरो तेरा’, ‘नैना’ जैसे गानों के लिए जाने जाते हैं। अब वह पॉप के जरिए अपने प्रशंसकों को सरप्राइज करना चाहते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *