शेयर बाजार

कोरोना टीका पर टिकी रहेगी शेयर बाजार की नजर, आर्थिक आंकड़ों से मिलेगी दिशा

मुंबई, 15 नवंबर (युआईटीवी/आईएएनएस)– कोरोना के कहर से निजात दिलाने वाले टीके आने की उम्मीदों से उत्साहित वैश्विक बाजारों से मिले सकारात्मक संकेतों से भारतीय शेयर बाजार बीते दो सप्ताह से गुलजार रहा है और निवेशकों की नजर फिलहाल कोरोनो के टीके पर ही टिकी है, इसलिए घरेलू शेयर बाजार इस सप्ताह भी विदेशी संकेतों से ही चाल पकड़ेगी। हालांकि सप्ताह के दौरान जारी होने वाले प्रमुख आर्थिक आंकड़ों से भी बाजार को दिशा मिलेगी। दिवाली के शुभ अवसर पर शनिवार को परंपरागत मुहूर्त ट्रेडिंग के दौरान घरेलू शेयर बाजार में जबरदस्त उछाल देखने को मिली और प्रमुख संवेदी सूचकांक रिकॉर्ड उंचाई पर बंद हुए। इसी के साथ संवत 2077 का आरंभ जबरदस्त उत्साह के साथ हुआ।

पूरी दुनिया में कहर बरपा रही कोरोना महामारी के प्रकोप पर लगाम लगाने और लोगों को इससे निजात दिलाने के लिए इसके टीके आने की दिशा में प्रगति से निवेशक उत्साहित हैं, इसलिए वैश्विक बाजार समेत घरेलू शेयर बाजार में जोरदार तेजी देखी जा रही है। बंबई स्टॉक एक्सचेंच बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) के 30 शेयरों पर आधारित प्रमुख संवेदी सूचकांक सेंसेक्स इस महीने नवंबर के पहले पखवाड़े में 4,000 अंकों से ज्यादा उछला है। वहीं, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) के 50 शेयरों पर आधारित प्रमुख संवेदी सूचकांक निफ्टी में बीते दो सप्ताह के दौरान 1,100 अंकों से ज्यादा की तेजी आई है।

इस कारोबारी सप्ताह के आरंभ में सोमवार को देश का शेयर बाजार बलिप्रतिपदा का अवकाश होने के कारण बंद रहेगा जबकि अगले दिन मंगलवार से बीएसई और एनएसई पर नियमित कारोबार चलेगा।

इससे पहले सोमवार को थोक मूल्य सूचकांक (डब्ल्यूपीआई) आधारित थोक महंगाई के अक्टूबर महीने के आंकड़े जारी होंगे जिसका प्रभाव अगले दिन बाजार पर देखने को मिल सकता है।

बाजार के जानकार बताते हैं कि बाजार की नजर विदेशी निवेशकों के भारत में निवेश के प्रति रुझान पर भी होगी क्योंकि इस महीने में एफपीआई इन्फ्लो में जोरदार इजाफा हुआ है, जिससे घरेलू बाजार को सपोर्ट मिला है। जानकारों के मुताबिक, दुनिया की छह प्रमुख मुद्राओं के मुकाबले डॉलर की ताकत का सूचक डॉलर इंडेक्स में कमजोरी से विदेशी निवेशकों की दिलचस्पी भारत जैसी उभरती अर्थव्यवस्था के प्रति बनी हुई है।

सप्ताह के दौरान विदेशों में जारी होने वाले प्रमुख आर्थिक आंकड़ों पर भी निवेशकों की निगाहें होंगी। चीन में सोमवार को औद्योगिक उत्पादन के अक्टूबर के आंकड़े जारी होंगे। वहीं, जापान में भी इसी दिन सितंबर महीने के औद्योगिक उत्पादन के आंकड़े जारी होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *